Narendra modi ji ne toa pahle hi kyaa thaa ki an bhrashtachaari jeal ke andar jayenge , desh ke geraah or vitt mantri rahe chidambarm ko suprimcort se nahi milaa jmaant , ghadhi parivar bachaav me utraa


नरेन्द्र मोदी ने तो पहले ही कहा था कि अब भ्रष्टाचारी जेल के अंदर जाएंगे। 
देश के गृह और वित्त मंत्री रहे चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से नहीं मिली जमानत। 
गांधी परिवार बचाव में उतरा। 
==========
21 अगस्त को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और देश के गृह व वित्त मंत्री रहे पी चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से अग्रिम जमानत नहीं मिली। हालांकि कांग्रेस से जुड़े वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल, सलमान खुर्शीद, विवेक तनखा आदि ने जमानत के लिए पूरा जोर लगा दिया। लेकिन प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई द्वारा सुनवाई के लिए कोई आदेश पारित नहीं करने की वजह से सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ न्यायाधीश रमन्ना ने सुनवाई करने से इंकार कर दिया। हालांकि चिदंबरम के वकीलों की फौज ने दो बार जस्टिस रमन्ना के समक्ष सुनवाई का आग्रह किया, लेकिन दोनों ही बार जस्टिस रमन्ना ने आग्रह को ठुकरा दिया। अब 22 अगस्त को प्रधान न्यायाधीश गोगोई के समक्ष सुनवाई होने की उम्मीद है। सुप्रीम कोर्ट से कोई राहत नहीं मिलने पर कांग्रेस और चिदंबरम को झटका लगा है। सीबीआई ने चिदंबरम के खिलाफ जो एफआई दर्ज की है उसके अनुसार वित्त मंत्री के पद पर रहते हुए चिदंबरम ने आईएनएक्स मीडिया में गैर कानूनी तरीके से विदेशी निवेश की मंजूरी दी। बाद में इसी मीडिया समूह के द्वारा चिदंबरम के बेटे कीर्ति चिदंबरम की कंपनी को वित्तीय लाभ पहुंचाया गया। चूंकि सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय ने भ्रष्टाचार की कड़ी से कड़ी जोड़ दी है, इसलिए अब चिदंबरम सीबीआई के शिकंजे में फंसे हुए हैं। बीस अगस्त को दिल्ली हाईकोर्ट ने चिदंबरम को अग्रिम जमानत देने से इंकार कर दिया था। हाईकोर्ट का कहना रहा कि यदि चिदंबरम को जमानत दी जाती है, तो समाज में गलत संदेश जाएगा। हाईकोर्ट से जमानत याचिका खारिज होने के बाद से ही सीबीआई चिदंबरम की तलाश कर रही है। चिदंबरम के दिल्ली स्थित आवास पर सीबीआई ने अब तक तीन बार छापामार कार्यवाही की है। लेकिन चिदंबरम का कोई पता नहीं चल रहा है। ऐसी स्थिति में चिदंबरम को फरार मानते हुए सीबीआई ने लुक आउट नोटिस जारी कर दिया है। ताकि चिदंबरम देश से बाहर भाग नहीं सके। सुप्रीम कोर्ट से भी जमानत नहीं मिलने पर अब सीबीआई ने चिदंबरम की सरगर्मी से तलाश शुरू कर दी है।
कांग्रेस बचाव में :
चिदंबरम की गिरफ्तारी को देखते हुए कांग्रेस अब चिदंबरम के बचाव में उतर आई है। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर सरकार पर द्वेषतापूर्ण कार्यवाही करने का आरोप लगाया है। गांधी परिवार की ओर से कहा गया है कि केन्द्र सरकार सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है। 
मोदी ने तो कहा था:
देश का दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेन्द्र मोदी ने तो कहा था कि पिछले पांच वर्ष के शासन में भ्रष्टाचारियों को जेल के दरवाजे तक लाया गया और अब जेल के अंदर डालने का काम किया जाएगा। चिदंबरम के खिलाफ मोदी के पिछले कार्यकाल में एफआईआर दर्ज की गई थी और अब जेल के अंदर डालने की कार्यवाही की जा रही है। आमतौर पर यह माना जाता है कि राजनेता जो भ्रष्टाचार करते हैं उनमें नेताओं के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं होती। लेकिन बदली हुई परिस्थितियों में अब राजनेताओं के खिलाफ भी भ्रष्टाचार के मुद्दे पर सख्त कार्यवाही हो रही है। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव पिछले कई वर्षों से जेल में बंद हैं इसी प्रकार वित्तीय गड़बडिय़ां करने के आरोप में कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी, उनके पुत्र राहुल गांधी और कांग्रेस के अन्य नेता जमानत पर हैं। कांग्रेस के कई बड़े नेताओं पर भी भ्रष्टाचार के मुकदमे विचाराधीन हैं। कांग्रेस का अब कहना है कि यह कार्यवाही राजनीतिक द्वेषता की वजह से हो रही है। ऐसा बयान देकर कांग्रेस के भ्रष्टाचार नेता बच नहीं सकते हैं। कांग्रेस को यदि लगता है कि भाजपा के नेता भी भ्रष्टाचार करते हैं तो देश में जिन राज्यों में कांग्रेस की सरकारें हैं वहां भाजपा के नेताओं के खिलाफ भी कार्यवाही की जा सकती है। इस समय मध्यप्रदेश, राजस्थान, पंजाब, छत्तसीगढ़ जैसे बड़े राज्यों में कांग्रेस की सरकारें है। मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ के भतीजे रितुल पुरी को तो सीबीआई ने 20 अगस्त को ही भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किया है। भतीजे की गिरफ्तार पर भी कमलनाथ ने राजनीतिक द्वेषता का आरोप लगाया है। 


Popular posts
जनपदीय एसओजी/सर्विलांस व थाना भवानीगंज की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा टावर से बैटरी चोरी की शत-प्रतिशत बरामदगी व घटना में संलिप्त तीन अभियुक्त किये गये गिरफ्तार ।
Image
इंस्टाग्राम पर वायरल वीडियो में कट्टा सटाकर गाली गलौज देने एवं जान से मरनेकी धमकी देन वाले को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा ।
Image
*फरार चल रहे इनामिया अभियुक्त पति -पत्नी को पुलिस ने किया गिरफ्तार*
Image
वेखोफ जलसाज अकरम सिद्दीकी ने स्काईलाइन सेल्फ ड्राइव जैसी कंपनीयों की गाड़ियां किराए पर लया और गिरवी में रख दिया*
Image
*मंडलायुक्त व आई जी ने ह्ररैया, डीएम व एसपी ने रुधौली तथा एडीएम तथा एसपी द्वारा बस्ती तहसील पर की गई जनसुनवाई*
Image