५ करोड़ रुपए नहीं दिए, इसलिए छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाया?


पांच करोड़ रुपए नहीं दिए, इसलिए छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद  पर रेप का आरोप लगाया?
शनि के उपासक दाती महाराज भी जा सकते हैं जेल।
२४ सितम्बर को उत्तर प्रदेश की एसआईटी ने पूर्व केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली लॉ कॉलेज की छात्रा को हिरासत में ले लिया है। पुलिस की कार्यवाही से बचने के लिए  छात्रा ने हाईकोर्ट से गुहार लगाई थी, लेकिन कोर्ट ने कोई राहत नहीं दी। कोर्ट ने कहा कि एसआईटी की जांच सही दिशा में जा रही है। असल में स्वामी चिन्मयानंद ने रेप का आरोप लगाने वाली छात्रा और उसके तीन दोस्तों पर पांच करोड़ रुपए की फिरौती मांगने का आरोप लगाया था। छात्रा का कहना रहा था कि यदि पांच करोड़ रुपए की राशि नहीं दी गई तो वह चिन्मयानंद पर रेप का मुकदमा दर्ज करवाएगी। इस शिकायत पर एसआईटी ने २३ सितम्बर को छात्रा के २ दोस्तों का गिरफ्तार किया था। पूछताछ में दोनों युवकों ने छात्रा की भूमिका को महत्वपूर्ण बताया। अब एसआईटी के अधिकारी छात्रा से पूछताछ कर रहे हैं। आज तक न्यूज चैनल ने भी एसआईटी को वो सबूत दिए हैं जिनसे पता चलता है कि छात्रा और उसके दोस्तों के द्वारा चिन्मयानंद को ब्लैक मेल किया जा रहा था। मालूम हो कि छात्रा के आरोप के बाद चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर शहजहांपुर की जेल में भेज दिया गया है। शहजहांपुर में ही चिन्मयानंद का आश्रम और शिक्षण संस्थाएं संचालित हैं। आरोप लगाने वाली छात्रा चिन्मयानंद के ट्रस्ट द्वारा संचालित लॉ कॉलेज में ही अध्ययन करती है। 
दाती महाराज भी जा सकते हैं जेल:
२४ सितम्बर को दिल्ली की साकेत कोर्ट ने सीबीआई को निर्देश दिए हैं कि वह आगामी १६ अक्टूबर तक दाती महाराज से जुड़े प्रकरण में सप्लीमेंट्री चार्जशीट पेश कर दें। शनि के उपासक माने जाने वाले दाती महाराज पर भी एक युवती ने बलात्कार का आरोप लगाया है। हालांकि अभी तक भी दाती महाराज की गिरफ्तारी नहीं हुई है। लेकिन माना जा रहा है कि 24 सितम्बर को अदालत के निर्देश के बाद दाती महाराज को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा सकता है। दाती ने भी आरोप लगाने वाली युवती पर ब्लैक मेल करने का आरोप लगाया है। उल्लेखनीय है कि दाती महाराज का राजस्थान के पाली और दिल्ली में बड़े बड़े आश्रम हैं। रेप का आरोप लगने के बाद दाती का टीवी चैनलों पर आना बंद हो गया है। 


Popular posts
शिक्षा किसी धर्म सम्प्रदाय की एकलौती वरासत नहीं है , मास्टर फिरोज जी अगर संस्कृत पढ़ायेंगे तो वह फारसी के शब्द बोलेगा।
Image
प्रात: स्मरणीय व कल्याणकारी अत्यंत शुभ मंत्रों और उनके अर्थों के साथ जयशंकर यादव की तरफ से सुभप्रभात।
क्या झारखण्ड चुनावों से गायब मोबलीचिंग की घटनाओं पर तारिक आज़मी की मोरबतियां - चार दिन चर्चा उठेंगी डेमोक्रेसी ।
Image
रजनीकांत की पॉलिटिक्स में एंट्री , अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में..
Image
करवा चौथ का व्रत पत्नी और भाभी मां के परिवार साथ संपन्न हुआ , व्रत के बाद इन चीजों का किया सेवन..
Image