२०१२ निर्भया केस में दया याचिका के लिए दोषियों के पास सिर्फ ७ दिन , वरना तो होगी फांसी।

नई दिल्ली





 १६ दिसंबर, २०१२ को दिल्ली में हुए निर्भया केस में चारों दोषियों के पास राष्ट्रपति के पास दया याचिका दाखिल करने के लिए सिर्फ ७ दिन का समय है। अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया तो फांसी की सजा का अमल में लाया जाएगा।बताया जा रहा है कि इसको लेकर तिहाड़ जेल प्रशासन चारों दोषियों को नोटिस देकर उन्हें चेतावनी दी है कि अगर उन्होंने सात दिनों के भीतर राष्ट्रपति महोदय के पास दया याचिका नहीं डाली तो उन्हें फांसी देने की कार्रवाई शुरू की जाएगी। 




Popular posts
लखनऊ 18 अक्टूबर को नाका में हुई हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या से जुड़ा मामला, राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत की जा रही है बड़ी कार्रवाई.
नोएडा में लगातार आ रहे कोरोना वायरस पॉजिटिव संक्रमण की केस , 4 नए मामले आए सामने.
यूपी में चली तबादला एक्सप्रेस ३० सीनियर पीसीएस के ट्रांसफर , जाने इन सभी अधिकार के नाम.....
कलश स्थापना के साथ मां की अराधना में लीन हुई भोले बाबा की नगरी , उमडा श्रद्धा का सैलाब मंदिरों में भक्तों की।
दिल्ली सरकार मुख्यमंत्री केजरीवाल और उपराजपाल न प्रेस कॉन्फ्रेंस किया और आश्वासन दिया आपकी जरूरत की हर सामान पहुंचाई जाएगी यह सरकार की..