अज़मेर में आदर्श क्रेडिट सोसायटी के खिलाफ सात और मुकदमें। मोदी परिवार को कोस रहें हैं जमाकर्ता।


अजमेर में आदर्श क्रेडिट सोसायटी के खिलाफ सात और मुकदमें। 
मोदी परिवार को कोस रहे हैं जमाकर्ता।
निवेशकों का कोई १४ हजार करोड़ रुपए खुर्दबुर्द करने वाली राजस्थान की आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी के खिलाफ अजमेर में सात और मुकदमें दर्ज किए गए हैं। इससे पहले चालीस निवेशकों ने सोसायटी के पदाधिकारियों के खिलाफ मुकदमें दर्ज कराए हैं। तीस सितम्बर को एसीजीएम प्रथम की अदालत में सात जमाकर्ताओं के प्रार्थना पत्र को स्वीकार करते हुए पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए हैं। जमाकर्ताओं के वकील अरविंद मीणा और प्रेम सिंह जोनवाल ने बताया कि अजमेर के कोटड़ा निवासी सुरेश बाबू के दो लाख पचास हजार रुपए, बीके कौल नगर निवासी श्रवणराम शर्मा के पांच लाख, कोटड़ा निवासी धर्मेन्द्र वर्मा के २ लाख पचास हजार, अजय नगर निवासी जीतेन्द्र टेकचंदानी के एक लाख बीस हजार, क्रिश्चियनगंज निवासी मदन सिंह भाटी के चार लाख बीस हजार, वैशाली नगर निवासी राखी सिंह के तीन लाख बीस हजार तथा पुष्पा भाटी के तीन लाख पचास हजार रुपए की वसूली को लेकर अदालत में इस्तगासा दायर किया गया था। सभी जमाकर्ताओं का कहना रहा कि जिन्दगी भर की कमाई आदर्श क्रेडिट सोसायटी में जमा करवाई थी, लेकिन अब सोसायटी की ओर से भुगतान नहीं किया जा रहा है। ऐसे में उनके परिवार के सामने भूखा मरने की स्थिति आ गई है। मीणा और जोनवाल ने बताया कि जो निवेशक सोसायटी के खिलाफ वैधानिक कार्यवाही कर रहे हैं उन्हें भविष्य में राहत मिलने की उम्मीद है। न्यायालय ने सहारा इंडिया के मामले में उन्हीं निवेशकों को राहत दी है, जिन्होंने वैधानिक कार्यवाही की है। न्यायालय ने पहले भी चालीस निवेशकों के मामले में अजमेर की कोतवाली पुलिस स्टेशन पर जांच के लिए भिजवाएं हैं। 
मोदी परिवार को कोस रहे है जमाकर्ता:
आदर्श क्रेडिट सोसायटी की शुरुआत पाली जिले में मुकेश मोदी और उसके परिवार ने की थी। सहकारिता के नियमों की खामियों का फायदा उठाकर मोदी परिवार ने १४ हजार करोड़ रुपए की राशि जमा कर ली और फिर फर्जी कंपनियों में ऐसी राशि का निवेश कर दिया। इससे अब जमाकर्ता स्वयं को ठगा महसूस कर रहे हैं। कोई बीस लाख लोगों की राशि आदर्श सोसायटी में जमा है। लेकिन अब सोसायटी के पदाधिकारी भुगतान करने में असमर्थ है। हालांकि पुलिस ने मोदी परिवार के सभी सदस्यों को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया है। लेकिन निवेशकों को जमा राशि नहीं मिल रही है। यही वजह है कि अब गरीब निवेशक मोदी परिवार को कोस रहे हैं। 


Popular posts
प्रात: स्मरणीय व कल्याणकारी अत्यंत शुभ मंत्रों और उनके अर्थों के साथ जयशंकर यादव की तरफ से सुभप्रभात।
रजनीकांत की पॉलिटिक्स में एंट्री , अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में..
Image
उत्तर प्रदेश सीएम योगी के सख्त निर्देश के बाद आबकारी विभाग ने की बड़ी कार्रवाई.
यूपी के बस्ती जिले में कानून एवं शांति व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए रखने हेतु पुलिस अधीक्षक बस्ती श्री हेमराज मीना एवं जनपद पुलिस स्थापना बोर्ड द्वारा निम्न निरीक्षक/ उप निरीक्षक/ म0उ0नि0 का हस्तांतरण किया..