बस्ती जिले के छावनी में दो समुदायों के बीच बावाल , दुकानें आग के हवाले।







बस्ती जिले के छावनी थाना इलाके के अमोढ़ा कस्बे में दो समुदायों के बीच बवाल हो गया धो है। एक समुदाय विशेष के दुकानों में आगजनी कर दी गई। मौके पर आईजी सहित पुलिस के आला अधिकारियों ने डेरा डाल लिया है।छावनी थाना इलाके में मंगलवार की शाम लगभग  पांच बजे अमोढा कस्बे से होकर श्रद्धालु रामरेखा नदी घाट पर मूर्ति विसर्जित करने जा रहे थे। इसी दौरान लोगों को सड़क पर आपत्तिजनक सामान बिखरा मिला। 


इसको लेकर सुरक्षा में लगी पुलिस से श्रद्धालु भिड़ गए। भीड़ हिंसक हो गई और धर्म विशेष के लोगों की दर्जनभर दुकानों में तोड़फोड़ कर दी। साथ ही आधा दर्जन दुकानों को आग के हवाले कर दिया। 
इस दौरान मौके पर मौजूद सीओ हर्रैया ने अतिरिक्त फोर्स बुलाकर भीड़ को तितर-बितर किया। सूचना पर पहुंची दमकल की गाड़ी ने आग पर काबू पाया। मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। कस्बे में स्थित पुलिस के काबू में है। 

अमोढा कस्बे में विवाद को देखते हुए आईजी आशुतोष कुमार, एसपी पंकज कुमार, एएसपी पंकज, जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव, एडीएम रमेशचंद्र, हरैया क्षेत्राधिकारी शिवप्रसाद सिंह अमोढा पहुंच चुके हैं।
एहतियात के तौर पर छावनी समेत कलवारी, हरैया, दुबौलिया, परसरामपुर, पैकोलिया थाने की पुलिस अमोढा कस्बे में तैनात है। इसके अलावा मामले की गंभीरता से लेते हुए दो बटालियन पीएसी, एक फायर गाड़ी तैनात कर दिया गया है।
 








Popular posts
शिक्षा किसी धर्म सम्प्रदाय की एकलौती वरासत नहीं है , मास्टर फिरोज जी अगर संस्कृत पढ़ायेंगे तो वह फारसी के शब्द बोलेगा।
Image
क्या झारखण्ड चुनावों से गायब मोबलीचिंग की घटनाओं पर तारिक आज़मी की मोरबतियां - चार दिन चर्चा उठेंगी डेमोक्रेसी ।
Image
प्रात: स्मरणीय व कल्याणकारी अत्यंत शुभ मंत्रों और उनके अर्थों के साथ जयशंकर यादव की तरफ से सुभप्रभात।
रजनीकांत की पॉलिटिक्स में एंट्री , अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में..
Image
करवा चौथ का व्रत पत्नी और भाभी मां के परिवार साथ संपन्न हुआ , व्रत के बाद इन चीजों का किया सेवन..
Image