इन्हीं एडेड स्कूलों के सहारे , सरकारी हुक्मरानों की रोजी-रोटी और उनकी अय्याशियां तो नहीं फल-फूल रही है।

मीनाक्षी निगम की कलम से -


कहीं इन्हीं एडेड स्कूलों के सहारे....सरकारी हुक्मरानों की रोजी-रोटी और उनकी अय्याशियां तो नहीं फलफूल रहीं हैं!!! 


जी हां, उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के डीआईओएस डा० मुकेश कुमार सिंह की कलम अखबारी हवाले से कमजोर विद्यालय प्रबंधकों की ओर चलने तो लगी है (इस बावत अभी पुख्ता प्रमाण नहीं मिले हैं ) वहीं दूसरी ओर डीआईओएस की अपनी नाक के नीचे रामाधीन सिंह इंटर कालेज,बाबूगंज के बाहुबली हिस्ट्रीशीटर भूमाफिया हत्यारे प्रबंधक सूरज वर्मा की ओर चलने से अभी भी कतरा रही है जबकि इस कालेज प्रबंधन के सारे अवैध कुकर्मो की कुण्डली शिक्षा विभाग और जिला प्रशासन की दरो-दीवार में अच्छी तरह से समाई हुई है। 


इस कालेज प्रबंधक से कोई खास लगाव है क्या भाई❓❓❓


डीआईओएस साहब को फिर से बताते चलें कि यहां तो लगभग 7 बीघे पक्की नजूल भूमि पर स्कूल की आड़ में शापिंग काम्प्लेक्स, गेस्ट हाउस,वीएस मोटर्स सर्विस सेंटर के साथ-साथ मैरिज लान  और उसपर बार-बालाओं के फूहड़ डांस हो रहे हैं। 


यहां की तस्वीरें देखकर ऐसा लगता है जैसे कि शिक्षा विभाग सहित लखनऊ का जिला प्रशासन इस जगह से वाकई में पूरी तरह से अंजान है या फिर इस विद्यालय का नाम सरकारी अभिलेखों में अब तक दर्ज ही नहीं किया गया!!!


वैसे इस संदिग्ध अवैध कब्जायुक्त-अवैध निर्माण सरकारी स्थल पर सत्ताधारी सरकार के तमाम सफेदपोश भ्रष्टाचारियों के नाम स्वर्णिम अक्षरों में चमकते आज भी देखे जा सकते हैं। 


हैरानी की बात ये है कि राजधानी के हमारे बड़े-बड़े मीडिया घरानों के कैमरे ऐसे शिलालेखों को अपने कैमरों में कैद करने से चूक कैसे गए ❓❓❓


सवाल यह भी उठता है कि जो कैमरे भ्रष्टाचारी नेताओं के बेडरूम से लेकर विदेशी जमीं पर उनकी फिज़ा बनाने के नजरिये से बड़ी आसानी से अपनी पहुंच बना लेते हैं उनके कैमरे राजधानी के भ्रष्टाचारियों के अवैध काले कारनामे दिखाने से चूक कैसे जाते हैं ❓❓❓


अब मामला जो भी बनता हो उसे बयां नहीं किया जा सकता लेकिन बावजूद इसके संजय आजाद अपनी कलम और मोबाइल के कैमरे में इसे कैद करने से भला कैसे चूक सकता है!!!


खैर छोड़िये जाने दीजिये मामला जो भी हो यह तो राजधानी के सरकारी जिम्मेदारान ही जान सकते हैं !!!


किन्तु लेकिन परन्तु.... मीनाक्षी निगम की नजर में मामला कुछ तो गड़बड़ है....


Popular posts
बस्ती जिले में मुख्यमंत्री पर अभद्र टिप्पणी करने पर पूर्व मंत्री के बेटे पर मुकदमा दर्ज..
उत्तरप्रदेश के सीनियर आईएएस अफसरों के लिए खुशी की खबर..
अब तक की सबसे बड़ी खबर दिल्ली में 200 लोगों पर एफआईआर 3763 लोगों को हिरासत में लिया , कोरोना के बीच उल्लंघन करने पर सरकार का आदेश..
अयोध्या में बड़ा हादसा टला , हेलीकॉप्टर की हुई इमरजेंसी लैंडिंग व पायलट की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा.
महामूर्ख मत बनो इस संक्रमण से मर जाओगे लापरवाही मत बरसो बार-बार अपील कर रहे हैं माननीय प्रधानमंत्री जी अपने घरों में रहकर अपनी सुरक्षा स्वयं करें और देश को भी सुरक्षित रखें.