खुदाई में मिला गोलाकार पूजा स्थल और भी बहुत कुछ, मुस्लिम पक्षकार बेवजह मामले को बना रहे पेचीदा।

खुदाई में मिला गोलाकार पूजास्थल और भी बहुत कुछ, मुस्लिम पक्षकार बेवजह मामले को बना रहे पेचीदा


 विवादित ढांचा किसी साफ भूमि पर नहीं बनाया गया था और ASI की रिपोर्ट वैज्ञानिक तरीके से इसकी पुष्टि करती है।...




नई दिल्ली, आइएएनएस। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) के पूर्व क्षेत्रीय निदेशक (उत्तर) केके मुहम्मद ने सीधे और स्पष्ट शब्दों में कहा है कि अयोध्या में विवादित स्थल पर खुदाई के दौरान मिली लंबी दीवार और गोलाकार पूजास्थल हिंदू मंदिर का हिस्सा है, न कि किसी ईदगाह मस्जिद का। मुस्लिम पक्षकार बेवजह और बिना किसी ठोस आधार के सीधे मामले को पेचीदा बना रहे हैं। इस बात के काफी सुबूत हैं कि विवादित ढांचा होने के बावजूद सदियों से हिंदू भगवान राम की पूजा करने के लिए अयोध्या जाते रहे हैं।




Popular posts
लखनऊ 18 अक्टूबर को नाका में हुई हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या से जुड़ा मामला, राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत की जा रही है बड़ी कार्रवाई.
नोएडा में लगातार आ रहे कोरोना वायरस पॉजिटिव संक्रमण की केस , 4 नए मामले आए सामने.
यूपी में चली तबादला एक्सप्रेस ३० सीनियर पीसीएस के ट्रांसफर , जाने इन सभी अधिकार के नाम.....
कलश स्थापना के साथ मां की अराधना में लीन हुई भोले बाबा की नगरी , उमडा श्रद्धा का सैलाब मंदिरों में भक्तों की।
दिल्ली सरकार मुख्यमंत्री केजरीवाल और उपराजपाल न प्रेस कॉन्फ्रेंस किया और आश्वासन दिया आपकी जरूरत की हर सामान पहुंचाई जाएगी यह सरकार की..