अयोध्या थाना कोतवाली क्षेत्र के खोजनपुर मोदहा गांव में अपने बीबी के साथ रेप करने अपने ही घर , दो लोगों को लाया ।





बीबी का रेप करने अपने ही घर आया दो लोगों को लेकर एक ओर जहाँ देश व प्रदेश की सरकारें महिला उत्पीड़न को लेकर लगातार सख्ती बरत रही है वहीं दूसरी ओर आज भी समाज में कुछ ऐसे घृणित मानसिकता के लोग मौजूद हैं जो किसी न किसी लालच वश महिलाओं को प्रताड़ित करने या उनका उत्पीड़न करने से बाज नहीं आ रहे हैं जिससे आज भी प्रतिदिन कहीं न कहीं से हमें महिला उत्पीड़न की खबरें सुनने और देखने को मिलती रहती हैं।

रतलाम के स्कूल में नाबालिग छात्रों ने किया गैंगरेप


ऐसा ही महिला उत्पीड़न का एक मामला यूपी में अयोध्या जनपद के थाना कोतवाली अन्तर्गत ग्राम खोजनपुर मोदहा में सामने आया है,  जहाँ एक महिला को उसके ससुराल वालों ने पीट पीट कर अधमरा कर दिया। उसने मौके से भागकर किसी तरह ग्राम प्रधान के घर पहुंच अपनी जान बचाई।पीड़िता की माने तो उसका विवाह ग्राम खोजनपुर निवासी सौरभ यादव से 2014 में हुआ था। उस समय उसके पति बेरोजगार थे। कुछ समय बाद उनको बिजली विभाग में एस एस ओ की नौकरी मिल गई। उसके बाद से ही उसके ससुराल वाले लगातार उसे मारते पीटते रहते हैं।इसी साल अगस्त माह में उसे जहर देकर मारने का भी प्रयास किया था।उस समय भी गांव वालों और ग्राम प्रधान की तत्परता के चलते समुचित इलाज मिल जाने से उसकी जान बच गई थी ।


बालक से किया था दुष्कर्म, मिली ऐसी सजा : -पीड़िता ने बताया कि उनके पति की मंशा दूसरी शादी करने की है जिसे लेकर वह उसे अपने रास्ते से हटाना चाहते हैं। इसकी उसने पुलिस में चार चार बार एफ आई आर भी दर्ज करा रखी है परंतु आज तक पुलिस द्वारा उसके खिलाफ कोई कारवाई नहीं की गई।उसने बिजली विभाग के उच्चाधिकारियों को भी इस बात की सूचना दी पर उनके द्वारा भी उसे सिर्फ आश्वासन ही मिला।आज की घटना के बारे में उसने बताया कि आज सुबह जब वह अपने कमरे में थी,  उसी वक्त उसके पति अपने दो अन्य साथियों के साथ कमरे में दाखिल हुये और पहले तो जबरन उसके साथ बलात्कार करने की कोशिश की। पर सफल न होने पर वहीं पास में रखी लाठी उठाकर उसे पीटने लगे, उसके साथ आये युवकों के साथ उसके सास ससुर और पूरे परिवार वालों ने उसे पीट पीट कर अधमरा कर दिया। किसी तरह  वह भाग कर प्रधान के घर पहुँची।जहाँ से प्रधान ने उसे अस्पताल पहुँचाया जहाँ उसका इलाज चल रहा है। वहीं घटना के बारे में एस पी सिटी विजयपाल सिंह ने बताया कि घटना जानकारी में आयी है, तहरीर मिलने पर उचित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उचित कारवाई की जायेगी।उधर गांव में घटना और ग्राम प्रधान के सम्बंध में लोग दबी जुबान में तरह तरह की चर्चाऐं कर रहे हैं। गांव वाले आश्चर्यचकित हैं कि, कि मारपीट के चलते अधमरी हालत में महिला ससुरालवालों से बचकर कैसे ग्राम प्रधान के घर तक पहुंचने में सफल रही?गांव में यह भी कानफूसी हो रही कि, कैसे दूसरी बार भी पीड़िता तीन चार युवाओं और सारे परिजनों  से पिटाई के बीच भी वह बचकर भागते हुए प्रधान के घर पहुंचने में सफल रही?यह भी अजीब लग रहा है (जैसा पीड़िता ने बताया) कि, एक युवक अपने ही घर में दो तीन बाहरी युवकों की मदद से अपनी ही बीबी का बलात्कार करना चाहे और असफल रहे, वह भी तब जब घर में उसके परिजन भी हों।मामला निश्चित रूप से संदेहास्पद जान पड़ता है, जिसका सच तो जांच के बाद ही पता चल सकेगा। 




Popular posts
शिक्षा किसी धर्म सम्प्रदाय की एकलौती वरासत नहीं है , मास्टर फिरोज जी अगर संस्कृत पढ़ायेंगे तो वह फारसी के शब्द बोलेगा।
Image
क्या झारखण्ड चुनावों से गायब मोबलीचिंग की घटनाओं पर तारिक आज़मी की मोरबतियां - चार दिन चर्चा उठेंगी डेमोक्रेसी ।
Image
प्रात: स्मरणीय व कल्याणकारी अत्यंत शुभ मंत्रों और उनके अर्थों के साथ जयशंकर यादव की तरफ से सुभप्रभात।
रजनीकांत की पॉलिटिक्स में एंट्री , अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में..
Image
करवा चौथ का व्रत पत्नी और भाभी मां के परिवार साथ संपन्न हुआ , व्रत के बाद इन चीजों का किया सेवन..
Image