महाराष्ट्र में चौतरफा विकास आघाड़ी के उद्धव बनेंगे सी० एम् ० , आशीवार्द लिए पवार से ।




राजनितिक - प्रशासनिक



महाराष्ट्र में बी०जे०पी०  के देवेंद्र फडणवीस की सरकार के ७९ घंटे में ही गिरते ही शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस के गठबंधन की सरकार बनने रास्ता साफ हो गया है।दोपहर में राकांपा के डिप्टी सीएम अजीत पवार और उसके कुछ देर बाद ही भाजपा के देवेन्द्र फणनवीस के इस्तीफों के बाद मुंबई के ट्राइडेंट होटल में मंगलवार शाम को गठबंधन के तीनों दलों के नेताओं ने बैठक की, इसमें सपा आदि के नेता भी शामिल हुए।



इस बैठक में तय हुआ कि शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन को महा विकास अघाड़ी कहा जाएगा। इस बैठक में उद्धव ठाकरे को महा विकास अघाड़ी का विधायक दल का नेता भी चुन लिया गया। बैठक के दौरान ही उद्धव ठाकरे ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार के सामने झुककर उनका आशीर्वाद लिया।इस तरह जैसा कुछ देर पहले केवल अजीत पवार का इस्तीफा होते जानकारी दी गई । साफ हो गया कि, उद्धव ठाकरे ही महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री होंगे। सूत्रों का कहना है कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे एक दिसंबर को शिवाजी पार्क में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।संस्थापक स्व बाल ठाकरे के जीवनकाल से अब तक के इतिहास में यह पहला मौका होगा जब ठाकरे परिवार का कोई सदस्य सीधे सत्ता में भागीदार बनेगा। दरअसल, शिवसेना संस्थापक बालासाहेब ठाकरे ने कहा था कि उनके परिवार का कोई भी सदस्य कभी भी सीधे तौर से सत्ता में भागीदार नहीं बनेगा, लेकिन परिस्थितियां हमेशा एक सी नहीं रहतीं।मालूम हो कि सोमवार शाम को मुंबई के होटल ग्रैंड हयात में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के अलावा समाजवादी पार्टी व अन्य निर्दलीय विधायकों के १६२ सदस्यों ने एक साथ आकर शक्ति प्रदर्शन किया था, जिसके बाद से साफ हो गया था कि बीजेपी को सत्ता से बाहर होना ही होगा, कथित तौर पर धोखा और संविधान से खिलवाड़ कर बनी सरकार ज्यादा टिकने वाली नहीं।


सम्पर्क  :- कलाम द ग्रेट न्यूज़





Popular posts
अयोध्या में बड़ा हादसा टला , हेलीकॉप्टर की हुई इमरजेंसी लैंडिंग व पायलट की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा.
उत्तरप्रदेश के सीनियर आईएएस अफसरों के लिए खुशी की खबर..
बस्ती जिले में मुख्यमंत्री पर अभद्र टिप्पणी करने पर पूर्व मंत्री के बेटे पर मुकदमा दर्ज..
महंगा पड़ सकता हैं ऑनलाइन डेस्क, सोशल मीडिया पर वायरल मैसेज फारवर्ड करने पर ,१७ नवम्बर को सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले का इन्तजार पूरे देश को।
Image
महामूर्ख मत बनो इस संक्रमण से मर जाओगे लापरवाही मत बरसो बार-बार अपील कर रहे हैं माननीय प्रधानमंत्री जी अपने घरों में रहकर अपनी सुरक्षा स्वयं करें और देश को भी सुरक्षित रखें.