ना होडिंग न उल्लास सूनी-सूनी सड़कें , पता नहीं चला सी० एम जी का जन्म दिन था।




राजनीति प्रशासनिक :- मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री और गांधी परिवार के सबसे निकटस्थ कांग्रेस नेता कमलनाथ का सोमवार को 73वां जन्मदिन मनाया गया। खास बात यह कि, उन्होंने स्वयं ही इस मौके पर कार्यकर्ताओं को विज्ञापन, होर्डिंग आदि के लिए रोक दिया था।



CM के जन्मदिन से सरकार की वर्षगांठ तक MP के मंत्री रहेंगे जनता के बीच, देंगे रिपोर्ट कार्ड :-यही वजह रही कि, सीएम के जन्मदिन पर भी कोई शोर शराबा न हुआ, अन्यथा ऐसे मौके पर अब तक करोड़ों खर्च होते रहे हैं।


खतरनाक बीबी; पकड़ी गई तीसरे पति की हत्या के बाद, दो प्रेमी भी गिरफ्तार1979 में संजय गांधी को तिहाड़ भेजा था और इंदिरा गांधी उनकी सुरक्षा के लिए चिंतित थीं। नाथ ने तब 'जानबूझकर' एक न्यायाधीश के साथ बहस की और तिहाड़ जेल चले गए जहां वह संजय के साथ रहे।बता दें कमलनाथ ने देहरादून के प्रतिष्ठित दून स्कूल से पढ़ाई की और यहीं उनकी दोस्ती इंदिरा गांधी के बेटे संजय गांधी से हुई थी। कमलनाथ ने गांधी परिवार की तीन पीढ़ियों इंदिरा गांधी, संजय-राजीव गांधी-सोनिया गांधी और राहुल गांधी के साथ काम किया है।कानपुर में जन्मे 72 साल के कमलनाथ मध्यप्रदेश की छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से 9 बार सांसद रहे हैं। इस बीच केवल एक बार छिंदवाड़ा से कमलनाथ को 1996 में हार का सामना करना पड़ा। बीच में एक बार उनकी पत्नी शोभा नाथ भी सांसद रह चुकी हैं। वर्तमान में उनके पुत्र नकुलनाथ वहां से सांसद हैं। हमेशा केन्द्र की राजनीति में रहे कमलनाथ पहली बार मुख्यमंत्री बनने के बाद उपचुनाव से विधायक बने।वह पहली बार 1991 में केन्द्र सरकार में पर्यावरण राज्य मंत्री और 1995-1996 टेक्सटाइल मंत्री रहे। इतना ही नहीं उन्होंने 2001-2004 तक कांग्रेस के महासचिव का पद संभाला। वे 2004-2009 तक यूपीए सरकार में केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री भी रहे। 2009 में कमलनाथ मनमोहन सरकार में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री बने। 2011 में उन्हें शहरी विकास मंत्री बनाया गया। वहीं 2012 में उन्हें संसदीय कार्य मंत्री का अतिरिक्त प्रभार दिया गया।

CM कमलनाथ का वीडियो हो रहा वायरल


वह जातिगत व सम्प्रदायिक राजनीति के विरोधी हैं। एक उच्च स्तर के उद्योगपति हैं। पारिवारिक रूप से जन्मजात सम्पन्न व सुद्रढ़ हैं तभी तो उनकी आरंभिक शिक्षा उस दून स्कूल में हुई जिसमें राजीव गांधी, संजय गांधी जैसे लोगो की हुई।


 




Popular posts
अयोध्या में बड़ा हादसा टला , हेलीकॉप्टर की हुई इमरजेंसी लैंडिंग व पायलट की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा.
उत्तरप्रदेश के सीनियर आईएएस अफसरों के लिए खुशी की खबर..
बस्ती जिले में मुख्यमंत्री पर अभद्र टिप्पणी करने पर पूर्व मंत्री के बेटे पर मुकदमा दर्ज..
महंगा पड़ सकता हैं ऑनलाइन डेस्क, सोशल मीडिया पर वायरल मैसेज फारवर्ड करने पर ,१७ नवम्बर को सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले का इन्तजार पूरे देश को।
Image
महामूर्ख मत बनो इस संक्रमण से मर जाओगे लापरवाही मत बरसो बार-बार अपील कर रहे हैं माननीय प्रधानमंत्री जी अपने घरों में रहकर अपनी सुरक्षा स्वयं करें और देश को भी सुरक्षित रखें.