सपा मुखिया मुलायम सिंह के समधी जी का आरोप - यादव अधिकारियों को परेशान कर रही है योगी सरकार।




एसपी विधायक हरिओम यादव ने कहा कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव के खिलाफ गबन का फर्जी केस दर्ज कराकर उनको परेशान किया जा रहा है. हमें जांच का इंतजार है सबकुछ दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. उन्होंने कहा कि दिनेश पर केस दर्ज कराने के पीछे किसकी साजिश है इसकी भी जांच होनी चाहिए.फिरोज़ाबाद. अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के विधायक (MLA) और एसपी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) के समधी हरिओम यादव (Hariom Yadav) ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा है. फिरोजाबाद (Firozabad) जनपद की सिरसागंज सीट से विधायक हरिओम यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) यादव जाति के अधिकारियों को जानबूझ कर परेशान कर रही है. उन्होंने कहा कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव के खिलाफ गबन का फर्जी केस दर्ज कराकर उनको परेशान किया जा रहा है. हमें जांच का इंतजार है सबकुछ दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा. उन्होंने कहा कि दिनेश पर केस दर्ज कराने के पीछे किसकी साजिश है इसकी भी जांच होनी चाहिए.



दिनेश यादव SP विधायक हरिओम यादव के समधी हैं


विज्ञापन

बता दें कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव एसपी विधायक हरिओम यादव के समधी हैं और उनके बेटे पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष विजय प्रताप के ससुर हैं. अपने आवास पर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए हरिओम यादव ने कहा कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव पर महज इसलिए केस दर्ज कराया गया है क्योंकि वो जाति से यादव हैं और हमारे रिश्तेदार हैं.




दर्ज किए गए FIR पर उठाए सवाल




उन्होंने एफआईआर पर भी सवाल उठाया और कहा कि खुद एफआईआर में जो तथ्य लिखे गए हैं उनसे यह साफ हो रहा है कि मामला फर्जी है. एसपी विधायक ने कहा कि रिपोर्ट में यह लिखाया गया है कि भूमि संरक्षण अधिकारी दिनेश यादव ने फिरोजाबाद और इटावा जनपद में रहते हुए गबन किया है.




अपराध फिरोजाबाद में तो FIR इटावा में क्यों 
हरिओम यादव ने कहा कि गबन अगर फिरोजाबाद और इटावा में हुआ है तो फिर गोंडा में एफआईआर क्यों हुई है. फिरोजाबाद में क्यों नही हुई. उन्होंने कहा कि यह मामला एक साल पुराना है और तहरीर भी थाने पर कई दिनों तक पड़ी रही. उन्होंने कहा कि यह साजिश है इसकी भी जांच होनी चाहिए.




Popular posts
लखनऊ 18 अक्टूबर को नाका में हुई हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या से जुड़ा मामला, राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत की जा रही है बड़ी कार्रवाई.
नोएडा में लगातार आ रहे कोरोना वायरस पॉजिटिव संक्रमण की केस , 4 नए मामले आए सामने.
यूपी में चली तबादला एक्सप्रेस ३० सीनियर पीसीएस के ट्रांसफर , जाने इन सभी अधिकार के नाम.....
कलश स्थापना के साथ मां की अराधना में लीन हुई भोले बाबा की नगरी , उमडा श्रद्धा का सैलाब मंदिरों में भक्तों की।
दिल्ली सरकार मुख्यमंत्री केजरीवाल और उपराजपाल न प्रेस कॉन्फ्रेंस किया और आश्वासन दिया आपकी जरूरत की हर सामान पहुंचाई जाएगी यह सरकार की..