वेखौफ महिलाओं ने किया अपराध , यहां महिला जली तो वहां बेटियां मरी फिर भी अपराधी बच गई मौत से।

अपराध मध्य प्रदेश के दो जिलों में महिलाओं द्वारा किए गए ऐसे अपराधों की खबरें मिली हैं, जिनमें एक में महिला खुद जल गई तो दूसरी में दो बेटियां मर गईं लेकिन आत्महत्या की कोशिश करने वाली महिला खुद बच गई।





दतिया जिले के एक गांव में एक युवती ने खुद पर कैरोसीन डालकर आग लगा ली, लेकिन बच गई। अब उसका कहना है कि, खाना बनाते जल गई।जानकारी के अनुसार शादी के बाद एक युवक परिवार से अलग रहने लगा। कुछ दिन पहले उसकी मां भी बेटा बहू के साथ रहने आ गई। लेकिन बहू को यह पसंद न आया तो उसने सास को खाना देना बंद कर दिया।इस पर उसके पति ने अपना और मां का भोजन अलग बनाने के लिए मां को आटा दे दिया। आटा देने पर पत्नी क्रुद्ध हो गई, उसने झगड़ा किया फिर घर के बाहर जाकर खुद पर कैरोसिन उड़ेलकर आग लगा ली।पड़ोसियों ने उसे बचाकर अस्पताल पहुंचाया। पुलिस को पता चला तो, जांच शुरू हुई। महिला ने बताया कि, खाना बनाते आग लग गई। दरअसल, उसका मुंह नहीं जला लेकिन कैरोसिन की गंध, पति के बयान और घर के बाहर पड़ोसी के बाड़े में आग के सबूतों ने उसकी पोल खोल दी।उधर बैतूल जिले में दो लड़कियों की कुएं में डूबने से तब मौत हो गई जब उनकी मां दोनों बेटियों को लेकर आत्महत्या के इरादे से कुएं में कूद गई। लेकिन मां तो बच गई, दोनों बेटियों की मौत हो गई।पुलिस ने इस घटना के बाद मां के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है। खबर है कि, आमला थाना क्षेत्र के लालावाड़ी गांव में एक महिला अपनी दो बेटियों के साथ कुएं में कूद गई।जिले में बारिश अच्छी होने की वजह से कुआं पानी से लबालब भरा ही था। बेटियों के साथ लेकर कुएं में गिरी महिला जब पानी में डूबने लगी और उसका दम घुटने लगा तो उसने पानी निकालने के लिए लगी मोटर की रस्सी पकड़ ली और कुएं से बाहर भी निकल आई. लेकिन उसने बेटियों को बाहर नहीं निकाला, जिससे उन दोनों की मौत हो गई।घटना की जानकारी मिलने पर जब परिजन और गांव के लोग कुएं पर पहुंचे तब तक 8 साल और 6 साल की दोनों बेटियों की पानी में डूबने से मौत हो चुकी थी। इसके बाद दोनों बच्चियों के शव को कुएं से बाहर निकाला गया।