धारा 144 के बावजूद निकला मार्च हुआ विरोध प्रदर्शन कामा पुलिस ने किया गिरफ्तार , नागरिकता बिल को लेकर दिल्ली से लेकर बिहार तक गदर.


वाराणसी। एनआरसी और सीएए के विरोध में विपक्षी दलों के भारत बंद आह्वाहन पर विभिन्न संगठनों व राजनीतिक दलों के लोगों द्वारा गुरुवार को वाराणसी में भी विरोध प्रदर्शन और सभा करने की कोशिश की गई। पूरे देश में फैली हिंसा को देखते हुए पहले ही एहतियात बरती जा रही है। समूचे उ.प्र में धारा 144 लागू होने के कारण बुधवार से ही वाराणसी पुलिस सोशल मीडिया और क्षेत्रों में चक्रमण कर लोगों से जुलूस और सभा न करने की अपील कर रही थी। बावजूद इसके सैकड़ों लोगों ने सरकार के केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए कानून के विरोध में बेनियाबाग में एकत्र होने की कोशिश की तो पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। पुलिस ने जुलूस के रूप में जा रहे बेनियाबाग लोगों को चेतगंज में ही रोक लिया और उन्हें हिरासत में लिया। हिरासत में लिए गए लोगों ने आरोप लगाया की परमिशन लेने के बाद भी जुलूस निकालने नही दिया गया। यह लोकतंत्र का हनन है। फिलहाल सभी को हिरासत में लेकर पुलिस लाइन भेज दिया गया है। इसी दौरान आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता संजीव सिंह ने कहा कि आज हम सब शांतिपूर्ण तरिके से अशफाकुल्लाह खां और रामप्रसाद बिस्मिल के शहीदी दिवस पर जुलूस निकालकर एनआरसी और सिटीजन एमेंडमेंट एक्ट का विरोध कर रहे थे लेकिन स्थानीय पुलिस ने हमें आगे नहीं बढ़ने दिया और हम हमें हिरासत में लिया है हो ने कहा कि हम पर हिंसा नहीं कर रहे थे जो हमारी गिरफ़्तार किया गया है।वहीं नागरिकता कानून के विरोध में शास्त्री घाट और जिला मुख्यालय पर सपाइयों ने प्रदर्शन किया। धारा 144 और बिना परमिशन जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन की सूचना पर कैंट पुलिस ने मौके से पहुंच कर जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन कर रहे सपाइयों को गिरफ्तार कर थाने ले आई।


 रिपोर्ट जय यादव मीडिया प्रभारी


संपर्क सूत्र कलाम द ग्रेट न्यूज़



Popular posts
लखनऊ 18 अक्टूबर को नाका में हुई हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या से जुड़ा मामला, राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत की जा रही है बड़ी कार्रवाई.
नोएडा में लगातार आ रहे कोरोना वायरस पॉजिटिव संक्रमण की केस , 4 नए मामले आए सामने.
यूपी में चली तबादला एक्सप्रेस ३० सीनियर पीसीएस के ट्रांसफर , जाने इन सभी अधिकार के नाम.....
कलश स्थापना के साथ मां की अराधना में लीन हुई भोले बाबा की नगरी , उमडा श्रद्धा का सैलाब मंदिरों में भक्तों की।
दिल्ली सरकार मुख्यमंत्री केजरीवाल और उपराजपाल न प्रेस कॉन्फ्रेंस किया और आश्वासन दिया आपकी जरूरत की हर सामान पहुंचाई जाएगी यह सरकार की..