विधार्थीयो में क्रिएटिविटी और विश्र्लेषण की क्षमता को बढ़ाने के लिए ,दशवी और बबारीहवीं की परीक्षा प्रणाली में सुधार के लिए बदलाव।






१०वीं और १२वीं शिक्षा  प्रणाली में  सुधार के लिए बदलाव की क्षमता को बढ़ावा देने के लिए सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) साल २०२३ तक १०वीं और १२वीं परीक्षा १०th and १२th परिक्षा के प्रश्‍न पत्रों के फॉर्मेट में बड़ा बदलाव करने जा रहा है। वक्त की जरूरत को ध्यान में रखते हुए ऐसा फैसला लिया गया है। साल जहां १०वीं क्लास के स्टूडेंट्स को २० पर्सेंट ऑब्जेक्टिव सवालों को हल करना होगा, वहीं १० फीसदी सवाल क्रिएटिव आइडियाज पर बेस्ड होंगे। २०२३ तक १०वीं और १२वीं के प्रश्नपत्र रचनात्मकता, आलोचनात्मक और विश्लेषण पर आधारित होंगे।भारत में व्यावसायिक विषयों को ज्यादा स्टूडेंट्स नहीं मिलते हैं। ऐसा रोजगार की कमी, बाजार की स्थिरता की कमी और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा नहीं होने की वजह से होता है। एक्सपर्ट का मानना है कि शिक्षा प्रणाली के बुनियादी ढांचे, टीचर्स, पैरेंट्स और स्टूडेंट्स के बीच आपसी संबंध को बढ़ावा देने की बेहद जरूरत है। नई शिक्षा नीति का लक्ष्य व्यावसायिक विषयों और मुख्य विषयों के बीच के अंतर को भरना है।इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली ने ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग का शेड्यूल जारी कर दिया है। इस शेड्यूल को आप आईआईटी गेट की ऑफिशल वेबसाइट पर देख सकते हैं। बता दें कि गेट- २०२० एग्जाम में इस साल करीब ८.६ लाख आवेदकों ने रजिस्ट्रेशन कराया है।यह परीक्षा ८ सेशन और २५ विषयों में आयोजित की जाएगी। परीक्षा का आयोजन दो शिफ्ट में किया जाएगा। पहली शिफ्ट सुबह ९.३० से दोपहर १२.३० बजे तक होगी, वहीं दूसरी शिफ्ट दोपहर २.३० बजे से शाम ५.३० बजे तक होगी। परीक्षा केंद्र और टाइमिंग और डेट आदि की पूरी जानकारी प्रत्येक आवेदक के एडमिट कार्ड पर दी जाएगी। गेट परीक्षा २०२० के एडमिट कार्ड ३ जनवरी को जारी कर दिए जाएंगे।













सम्पर्क सूत्र:- कलाम द ग्रेट न्यूज़   









Popular posts
इंदौर न्यायालय द्वारा दिया गया एक निर्णय , संतान की सजा माता पिता को मिलती हैं जैने कैसे....
कोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रदेश स्तर पर सतर्कता रखी जाए , पर्यटन स्थलों वाले सभी जनपद एयरपोर्ट पर विशेष निगरानी की जाए , अस्वस्थ पयर्टन का विवरण तत्काल जिला प्रशासन को उपलब्ध कराया जाए.
जालसाजों को बचाने में माहिर हैं उत्तर प्रदेश के मुख्य सूचना आयुक्त जावेद उस्मानी ......
लखनऊ नगर निगम सफाई कर्मी ने नशे की हालत में थाने में मचाया उत्पात..
उत्तर प्रदेश सीएम योगी के सख्त निर्देश के बाद आबकारी विभाग ने की बड़ी कार्रवाई.