लखनऊ में 13 साल की मासूम पर किया गया एसिड अटैक , बच्ची का नाम गुनगुन बताया जा रहा है.


लखनऊ के साथी अंशु राजपूत जी के माध्यम से बच्ची की सहायता करें।


 इस तस्वीर मे जो लड़की आप देख रहे है इसका नाम गुनगुन है। उम्र 13 साल है ,
और लखनऊ की ही रहने वाली है।
 गुनगुन के ऊपर आज ही 3बजे एसिड अटैक हुआ है।


 आप लोग देख रहे होंगे लोगो के मानसिकता किस तरह ख़राब हो चुकी है,,


 की थोड़ी लड़ाई हुई नहीं की एसिड फेक दिया क्या अब भी आप लोग ये ही कहोगे लोगो को जागरूक होने की जरूरत नहीं है?


 तेज़ाब हमले के बारे एक लड़की के ऊपर एसिड अटैक हो तो भी उतनी सजा है ,,और किसी के ऊपर गर्म पानी डालो तो भी उतनी सजा है !


एसिड को बंद करना होगा,
 लोगो मे बदलाब लाना होगा ,


और इसके बारे मे जागरूक होना होगा ताकि अब और एसिड हमले ना हो,,


 थक गए है बार बार किसी लड़की को बिक्टिम बनते देख अब और नहीं देखा जाता तो 


आप लोग क्यों नहीं समझ रहे है एक कदम उठाया मूवी के जरिये तेज़ाब के बारे मे जागरूक करने के लिये लोग उसका भी विरोध करने लगे आधी जानकारी लेकर फ़िल्म का बहिस्कार करने लगे! 


अब जो तेज़ाब हमला हुआ है 


अब कौन जिम्मेदार होगा 


और कौन दिलाएगा उसके अटैकर को सजा?


 कौन देगा उसको नौकरी ?


कौन पढ़ाएगा उसको अपने स्कूल मे?


 कौन कराएगा उसका इलाज़??? आप लोग जरूर बताइयेगा 


 की अब कौन जिम्मेदार बनेगा??


यह लेख अंशु राजपूत ने लिखा है अंशु राजपूत एसिड अटैक विक्टिम के लिए काम करती हैं


मुझे उम्मीद है कि आप सब अंशु की बातों को गंभीरता से समझेंगे।