लखनऊ मुख्यमंत्री कार्यालय एनेक्सी गेट से निकलते हुए महिला सुरक्षा गार्ड का हुआ एक्सीडेंट.


लखनऊ मुख्यमंत्री कार्यालय एनेक्सी गेट से निकलते हुए महिला सुरक्षा गार्ड का हुआ एक्सीडेंट स्कूटी सवार युवक ने महिला सुरक्षाकर्मी को मारी टक्कर। सरला नामक सुरक्षा गार्ड उम्र लगभग 50 साल को मारी टक्कर । घायल महीला के लिए एंबुलेंस हेल्पलाइन पर किया गया फोन। इंतजार हो रहा था...... आ रही है एंबुलेंस पर आधे घंटे बातचीत के बाद भी नहीं भेजी एंबुलेंस....


गवर्नर के साथ ड्यूटी कब बताकर आने से टकराया...


अचानक सचिव( चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण )सुश्री हेकाली इमोमी की गाड़ी एनेक्सी पहुंची...


मैडम ने मामले को संज्ञान में लेते हुए तुरंत सिविल अस्पताल के सीएमओ को मिलाया फोन....


फोन होने के तुरंत बाद ही सिविल अस्पताल से पहुंची एंबुलेंस....


घटनाक्रम मैं नष्ट हुए लगभग आधे से पौन घंटे का समय...


सोचने वाली बात कि अगर महिला को गंभीर चोट आ जाती और उनकी जान पर बन आती... तू इतनी देर की लापरवाही की जिम्मेदारी किसकी बनती है.


लेकिन इससे एंबुलेंस हेल्पलाइन को क्या मतलब वह तो हिसाब से कर रहे हैं अपनी ड्यूटी.


सरकार को अपनी एंबुलेंस की सेवा पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है इनकी शिकायतें काफी मात्रा में रहती हैं ।


आगे पुलिस के बारे में बताया जाए तो हुसैनगंज थाना है एनेक्सी से मात्र आधे किलोमीटर से भी कम की दूरी पर लेकिन जानकारी दिए जाने के बाद भी पुलिस को आने में लगभग आधे घंटे से भी ज्यादा का वक्त लग ......


खैर..... पहुंची तो पुलिस......


लेकिन क्या पुलिस द्वारा उन युवकों पर हुई कार्यवाही या मामला हल्के में ही कर दिया गया रफा-दफा????


               कलाम द ग्रेट न्यूज़ से


रिपोर्ट तेज प्रताप यादव।