कोरोना के बीच रहकर जोखिम भरा खतरा उठाने वाले इन सेवार्थइयों का सम्मान , मानव जाति की सेवा करते रहे संक्रमण के बीच में..


सम्मान इन चेहरों को देना है जो अपनी जिंदगी जोखिम में डालकर लगातार 18- 18 घंटे कोरोना पीड़ितों को बचाने के लिए आपातकालीन सेवाएं दे रहे हैं..
देश और दुनिया के डॉक्टरों ,नर्सों और स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े वीरों ने लगातार अपने खुद के जीवन को खतरे में डालकर जो मानव जाति की सेवा की है और जो अदम्य साहस दिखाया है आज इन्हें सम्मान देने का समय है..


 सुरक्षा उपकरणों को लगातार लगाए रखने के कारण इनके चेहरों की हालत देख लीजिए लेकिन इनके फौलादी हौसलों का नतीजा है कि हम जैसे व्यक्तियों का विश्वास जिंदा है -मानवता में, सच्चाई में , त्याग में ..इन सबके लिए जोर से ताली बजाते हैं.


Popular posts
हैप्पी नवरात्री 2020 चैत्र नवरात्रि के इस पावन अवसर पर देश के सभी परिजनों को कलाम द ग्रेट न्यू से ढेर सारी शुभकामनाएं...
Image
राजधानी के गोमती नदी में रिटायर्ड हेड कांस्टेबल के बेटे ने किया सुसाइड.
लखनऊ 18 अक्टूबर को नाका में हुई हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या से जुड़ा मामला, राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत की जा रही है बड़ी कार्रवाई.
Kongresh CBI adaalat se lekar supreem Cort tak ke sankeat samjhe, kongresh saasit rajyoa me Bharat bhaajpaa netaao ke khilaap bhi kaarwahi
सीएम योगी ने 11लाख गरीब मजदूरों के लिए 1-1 रुपए जारी किए , जनधन योजना के तहत 3 माह तक महिलाओं को भी मिलेगा पैसा.