मीडिया कर्मियों को पास की जरूरत नहीं लॉकडाउन के दौरान समाचार पत्र कर्मियोगी और मीडिया कर्मी को इसी किसी प्रकार की पाबंदी नहीं.

मीडियाकर्मियों को पास की जरूरत नहीं
लॉकडाउन के दौरान समाचार पत्र कर्मयोगी और मीडियाकर्मियों को पास की जरूरत नहीं
पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान मीडिया पर किसी तरह की पाबंदी नहीं


लखनऊ, 28 मार्च 2020, लॉकडाउन के दौरान पत्रकारों के शहर में सामाचार संकलन करने और अखबार वितरण पर कोई रोक नहीं है। सरकार ने इसे बीस आवश्यक सेवाओं में शामिल किया है और सभी प्रदेशों के पुलिस और प्रशासन के शीर्ष अधिकारियों से इसका पालन सुनिश्चत करने को कहा है। 
पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान मीडिया पर किसी तरह की पाबंदी नहीं है। पत्रकार कहीं पर भी समाचार संकलन के लिए भ्रमण कर सकते हैं। उनके पास अपने अखबार का परिचय पत्र होना चाहिए, अगर कहीं पर कोई पुलिसककर्मी रोकता है तो बस अपना परिचय पत्र दिखाना होगा। इसी तरह समाचार पत्र वितरक भी अपना परिचय पत्र साथ रखें। उनको भी किसी तरह के पास की जरूरत नहीं है।  अखबार के दूसरे कार्यों से जुड़े लोगों के लिए भी यही नियम है, बस सबको अपना परिचय पत्र रखना अनिवार्य है। 
पुलिस आयुक्त ने सभी पत्र वितरकों से आग्रह किया है कि वह बेफिक्र होकर अपना कार्य करें। पुलिस की ओर से उन्हें कोई परेशानी नहीं होगी। प्रिंट मीडिया आवश्यक सेवाओं में सिम्मलित है। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश का कहना है कि प्रिंट मीडिया को आवश्यक सेवाओं में रखा गया है और इसके लिए सरकार की ओर से भी आदेश जारी किया जा चुका है। पुलिस प्रशासन की आरे से समाचार पत्र वितरकों और मीडियाकर्मियों की सुविधा का ध्यान रखा जाएगा।


 


Popular posts
प्रात: स्मरणीय व कल्याणकारी अत्यंत शुभ मंत्रों और उनके अर्थों के साथ जयशंकर यादव की तरफ से सुभप्रभात।
टूटा रिकॉर्ड १२६ साल का क्रिकेट में ,सभी बल्लेबाज शून्य पर हुऐं आउट।
Image
राजधानी के तालकटोरा के थाना क्षेत्र में आत्महत्या करने के मामले सामने आए हैं।
छात्र के दुष्कर्म के मामले में हुऐ गिरफ्तार, गृह राज्य मंत्री रहे स्वामी चिन्मयानंद को १४ दिन की जेल, हुती तबियत खाराब ..
लखनऊ में प्रेमी ही निकला २० वर्षीय बीए की छात्रा अंजू का कातिल ,चाकू से गोदकर उतारा मौत के घाट.