उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में कोरोना से पहली मौत इलाज करने वाले डॉक्टर आइसोलेशन में.

यूपी के गोरखपुर में कोरोना से पहली मौत इलाज करने वाले डॉक्टर आइसोलेशन में


गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान बस्ती के जिस युवक की मौत हो गई थी वह रोना पॉजिटिव था। केजीएमयू लखनऊ से कंफर्म रिपोर्ट आने के बाद गोरखपुर से बस्ती तक हड़कंप मच गया है । उन सभी डॉक्टरों , पैरामेडिकल स्टाफ और तीमारदारों क्वारंटीन या आइसोलेट कर दिया गया है जो मरीज के संपर्क में आए थे ।गोरखपुर और बस्ती में या युवक जिन जिन अन्य लोगों के संपर्क में आया था उनकी तलाश की जा रही है। आशंका है कि उसकी वजह से कई लोग संक्रमित हो सकते हैं सोमवार की सुबह बीआरडी मेडिकल कॉलेज के आईसीयू में युवक की मौत हो गई थी।उसे रविवार की रात उसके परिजनों ने सांस में तकलीफ की शिकायत पर पहले ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया था। वहां से मेडिसिन विभाग के वार्ड नंबर 14 में उसे शिफ्ट किया गया । रात में तबीयत ज्यादा बिगड़ी तो डॉक्टरों ने उसे कोरोना वार्ड में शिफ्ट कर दिया जहां सोमवार सुबह उसकी मौत हो गई ।युवक की मौत के बाद डॉक्टरों ने शक के आधार पर उसके परिजनों से युवक की विदेश यात्रा और अन्य गतिविधियों के बारे में पूछताछ शुरू की तो परिवारीजन कतराने लगे । इसके बाद उसके शव से गले के लार के नमूने लेकर जांच के लिए भेजा गया। युवक का शव परी परिवार जन अपने साथ लेते गए । मंगलवार को थोरट स्वाब की जांच में कोरोना के संकेत मिले थे बुधवार सुबह केजीएमयू से सूचना आई कि उसे कोरोना था।


           कलाम द ग्रेट न्यूज़ रिपोर्ट वरिष्ठ पत्रकार ज्ञान प्रकाश दुबे।


Popular posts
इंदौर न्यायालय द्वारा दिया गया एक निर्णय , संतान की सजा माता पिता को मिलती हैं जैने कैसे....
कोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रदेश स्तर पर सतर्कता रखी जाए , पर्यटन स्थलों वाले सभी जनपद एयरपोर्ट पर विशेष निगरानी की जाए , अस्वस्थ पयर्टन का विवरण तत्काल जिला प्रशासन को उपलब्ध कराया जाए.
जालसाजों को बचाने में माहिर हैं उत्तर प्रदेश के मुख्य सूचना आयुक्त जावेद उस्मानी ......
लखनऊ नगर निगम सफाई कर्मी ने नशे की हालत में थाने में मचाया उत्पात..
उत्तर प्रदेश सीएम योगी के सख्त निर्देश के बाद आबकारी विभाग ने की बड़ी कार्रवाई.