*फर्जी स्कूलों के खिलाफ फिर चलेगा अभियान*

 " कलाम द ग्रेट न्यूज " ब्यूरो चीफ जी पी दूबे "

*फर्जी स्कूलों के खिलाफ फिर चलेगा अभियान* 

*बिना मान्यता प्राप्त स्कूलों पर एक्शन लेगी योगी सरकार, कार्रवाई के साथ लगेगा एक लाख रुपए तक का जुर्माना*

*बेसिक शिक्षा निदेशालय ने सभी बीएसए को जारी किया निर्देश, 22 नवंबर तक सभी जिलों से मांगी अभियान की रिपोर्ट* 

*मान्यता समाप्त होने के बाद भी संचालित हो रहे विद्यालयों पर प्रतिदिन 10 हजार रुपए की दर से लगेगा जुर्माना* 

*लखनऊ, 7 नवंबर।* उत्तर प्रदेश में बिना मान्यता प्राप्त चल रहे विद्यालयों पर योगी सरकार सख्त एक्शन लेने जा रही है। इसके लिए पूरे प्रदेश में सघन अभियान चलाया जाएगा। अभियान के दौरान जो विद्यालय बिना मान्यता प्राप्त या मान्यता रद होने के बाद भी संचालित होते पाए जाएंगे उन पर नियमानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी, जिसमें दंड के साथ ही एक लाख रुपए तक जुर्माने का प्राविधान है। इस संबंध में बेसिक शिक्षा निदेशालय की ओर से सभी बेसिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। साथ ही 22 नवंबर तक सभी जनपदों से अभियान के तहत की गई कार्रवाई की रिपोर्ट भी तलब की गई है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में 14 वर्ष तक के बच्चों की शिक्षा के लिए राज्य सरकार द्वारा परिषदीय प्राथमिक, जूनियर हाईस्कूल, सहायता प्राप्त जूनियर हाईस्कूल, मान्यता प्राप्त प्रारंभिक एवं जूनियर हाईस्कूल संचालित किए जा रहे हैं।  निशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिनियम में स्पष्ट रूप से प्राविधान किया गया है कि बिना मान्यता प्राप्त किए कोई स्कूल न तो स्थापित किया जा सकता है और न ही संचालित किया जा सकता है। 

*खंड शिक्षा अधिकारी को देना होगा प्रमाण पत्र* 

संयुक्त शिक्षा निदेशक (बेसिक) गणेश कुमार ने इस संबंध में सभी जनपदों के बेसिक शिक्षा अधिकारियों को पत्र जारी कर अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। निर्देश में कहा गया है कि सभी खंड शिक्षा अधिकारी समस्त ब्लॉकों में सघन अभियान चलाएं और यदि कोई विद्यालय बिना मान्यता प्राप्त संचालित हो रहा है तो उसके विरुद्ध कठोर कार्रवाई करें। इसके साथ ही सभी खंड शिक्षा अधिकारियों से इस आशय का प्रमाण पत्र निदेशालय को उपलब्ध कराने को भी कहा है कि उनके ब्लॉक में कोई भी विद्यालय बिना मान्यता प्राप्त किए संचालित नहीं हो रहा है और जिन विद्यालयों के विरुद्ध कार्रवाई की जाए उसकी विद्यालयवार सूची 22 नवंबर तक निदेशक बेसिक शिक्षा को उपलब्ध कराएं।  निर्देश में ये भी कहा गया है कि बिना मान्यता प्राप्त किए कोई स्कूल न तो स्थापित किया जा सकता है और न ही संचालित किया जा सकता है। यदि कोई व्यक्ति बिना मान्यता प्राप्त किए कोई स्कूल संचालित करता है, तो उसके विरुद्ध एक लाख रुपए तक का जुर्माना लग सकता है और उल्लंघन जारी रहने की दशा में प्रत्येक दिन के हिसाब से दस हजार रुपए तक का जुर्माना देय होगा। इस अधिनियम के प्राविधानों को राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार नियमावली-2011 प्रख्यापित करते हुए लागू किया जा चुका है।

        कलाम द ग्रेट न्यूज। खबरें सबसे पहले।

     kalamthegreat9936@gmail.com

Contact number - 9453288935 , कलाम द ग्रेट न्यूज में विज्ञापन अथवा पत्रावली छपवाने हेतु संपर्क करें।

Popular posts
*थाना सफदरगंज क्षेत्रान्तर्गत पुलिस मुठभेड़ में वांछित बदमाश घायल की गिरफ्तारी के सम्बन्ध में-*
Image
कलयुगी पुत्र ही निकला पिता का कातिल*
Image
कुदरहा विकास खण्ड के परिसर में नीति आयोग, भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए संपूर्णता अभियान का शुभारंभ मुख्य अतिथि ब्लॉक प्रमुख अनिल दूबे ने मुख्य विकास अधिकारी जयदेव सीएस डीडीओ बाल विकास परियोजना अधिकारी की गरीमामयी उपस्थित में फीता काटकर किया।
Image
*मोहित अपहरण /हत्याकांड में पांच और अभियुक्त हुये गिरफ्तार*
Image
*गन्ना दफ़्तर मे मनाया गया भीम आर्मी भारत एकता मिशन के 9वां स्थापना दिवस*
Image