*मंडलायुक्त ने किया कलेक्ट्रेट के संयुक्त कार्यालय का निरीक्षण*

"कलाम द ग्रेट न्यूज ब्यूरो चीफ जी.पी. दुबे"

 97210 711 75

 *मंडलायुक्त ने किया कलेक्ट्रेट के संयुक्त कार्यालय का निरीक्षण*

बस्ती 05 मार्च 2024.

 मंडलायुक्त अखिलेश सिंह ने कलेक्ट्रेट के विभिन्न अनुभाग, न्यायालय तथा परिसर का निरीक्षण किया।

उन्होंने साफ-सफाई पर संतोष व्यक्त करते हुए न्यायालय के कार्यों पर प्रसन्नता व्यक्त किया।

 उन्होंने कहा कि राजस्व परिषद के अध्यक्ष महोदय द्वारा निरीक्षण के दौरान दिए गए निर्देश के अनुपालन का उन्होंने अनुश्रवण किया है। निरीक्षण में उन्होंने पाया कि उनके निर्देशों का पूरी तरह पालन किया जा रहा है।

निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी अन्द्रा वामसी, एडीएम कमलेश चंद्र तथा सीआरओ संजीव ओझा उपस्थित रहें।

 मंडलायुक्त के कलेक्ट्रेट परिसर पहुंचने पर उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। उन्होंने संयुक्त कार्यालय का निरीक्षण किया। उन्होंने न्याय सहायक, राजस्व पटल, आयुध पटल एवं प्रमाण पत्र जारी करने वाले पटल का निरीक्षण किया। निरीक्षण में उन्होंने पाया कि राजस्व परिषद के अध्यक्ष द्वारा दिए गए निर्देश के अनुसार रजिस्टर एवं पत्रावलियों का रख-रखाव किया जा रहा है। उन्होंने अपने कार्यालय में आज ही प्राप्त जनता दर्शन के दौरान आयुध लाइसेंस के वरासत का एक प्रकरण की पत्रावली का निरीक्षण किया।पत्रावली पूर्ण पाई गई। उन्होंने निर्देश दिया कि पत्रावलियों के रख-रखाव में पारदर्शिता बरती जाए तथा आवेदक को भी समय-समय पर सूचित किया जाए।

  संयुक्त कार्यालय में प्रमाण पत्र पटल का निरीक्षण करते हुए उन्होंने निर्देश दिया कि पुलिस रिपोर्ट मंगवाना भी हमारी जिम्मेदारी है, इसे समय से मंगवाया जाए। आयुध पटल पर उन्होंने पाया कि 33 वरासत के तथा 19 ट्रांसफर के केस लंबित हैं। मंडलायुक्त ने इनका समय से निस्तारण करने का निर्देश दिया। आरए पटल पर उन्होंने अनुभाग सहायक का जॉब चार्ट देखा। जिलाधिकारी ने बताया कि मानव संपदा पोर्टल पर सभी अधिकारियों-कर्मचारियों का डाटा अपलोड किया गया है। इनके द्वारा शासन के निर्देशानुसार संपत्ति का ब्योरा भी अपलोड किया जा रहा है ।    मंडलायुक्त ने जिलाधिकारी न्यायालय, अपर जिलाधिकारी न्यायालय तथा मुख्य राजस्व अधिकारी न्यायालय का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी न्यायालय में उन्होंने सबसे पुराने वाद की पत्रावली का निरीक्षण किया।

मुख्य राजस्व न्यायालय में उन्होंने चकबंदी से संबंधित पत्रावली का निरीक्षण करते हुए निर्देश दिया कि मेरिट के आधार पर निर्णय करें। एडीएम कोर्ट में उन्होंने ऑर्डर सीट का निरीक्षण किया तथा वहां उपस्थित उप जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि पत्रावली में ऑर्डरशीट महत्वपूर्ण होती है, का अध्ययन सावधानी पूर्वक किया जाना चाहिए।

 उन्होंने निर्देश दिया कि न्यायालय द्वारा पत्रावली की मांग किए जाने पर तत्काल भिजवाना सुनिश्चित करें। इसके लिए बार-बार रिमाइंडर ना देना पड़े।

उन्होंने कोषागार का निरीक्षण किया। उन्होंने कोषागार में स्थित पुराने समय के कैश चेस्ट को भी देखा। डबल लॉक में उन्होंने रखे गए अभिलेखों की जानकारी लिया। उन्होंने अपर जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि सभी अभिलेखों का एक बार परीक्षण करके समय से संबंधित कार्यालय को भिजवाना सुनिश्चित करें। मुख्य कोषाधिकारी अशोक कुमार प्रजापति ने बताया कि कोषागार का भवन पुराना था, जिसका कायाकल्प कराया गया है। मंडलायुक्त के पूछने पर उन्होंने बताया कि आगामी लोकसभा निर्वाचन में व्यय अनुवीक्षण के लिए उनकी ड्यूटी लगाई गई है। उनके साथ सहायक लेखाकार संबद्ध किए गए हैं। अलग-अलग उड़नदस्ता, वीडियोग्राफी तथा स्टैटिक टीम गठित की गई है। निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी सदर शत्रुहन पाठक, डिप्टी कलेक्टर मोहन प्रकाश, सत्येंद्र कुमार सिंह, रामकृष्ण चौधरी, प्रशासनिक अधिकारी गिरिजेश पाल, अशोक मिश्रा, श्रवण कुमार तिवारी, डीके सिंह, अनुभाग सहायक राजेश रंजन तथा विभिन्न अनुभाग के पटल सहायक गण उपस्थित रहे।

       कलाम द ग्रेट न्यूज खबरें सबसे पहले।

   kalamthegreat9936@gmail.com

Contact number - 9453288935,8896451232, कलाम द ग्रेट न्यूज में विज्ञापन अथवा पत्रावली छपवाने हेतु संपर्क करें।

सम्पर्क कार्यालय लखनऊ*