जनपद न्यायाधीश ने मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता विषयक शिविर का किया शुभारम्भ*

*कलाम द ग्रेट न्यूज ब्यूरो चीफ रामपाल मौर्य की रिपोर्ट*

 जिला सूचना कार्यालय, बाराबंकी।

---------------------------

जनपद न्यायाधीश ने मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता विषयक शिविर का किया शुभारम्भ*

---------------------------

बाराबंकी, 04 अप्रैल। उ0प्र0 राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ की मंशानुरूप एवं श्री दिनेश चन्द जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की अध्यक्षता में आनन्द भवन स्कूल में मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता विषयक शिविर का शुभारम्भ दीप प्रजवल्लन कर किया गया।


इस अवसर पर श्रीमती नाजनीन बानो, अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश/सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बाराबंकी, श्री भूषन कुमार मुख्य विकास अधिकारी, 

श्री राजीव दीक्षित चिकित्सक, श्री सौरभ मिश्रा मनोचिकित्सक, श्रीमती अर्चना अध्यक्ष, उम्मीद किरन समाज सेवी संस्था, अर्चना थॉमस प्रधानाचार्या आनन्द भवन स्कूल, कनिष्ठ लिपिक श्री सौरभ शुक्ला व कनिष्ठ लिपिक मो0 सलमान व श्री मोहित कुमार वर्मा व श्री प्रदीप यादव उपस्थित रहे।

उक्त शिविर में श्री दिनेश चन्द जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बाराबंकी द्वारा बताया गया कि दुआ के साथ-साथ दवा का सभी सहारा लेना चाहिए। आज के दौर में लोगो को मानसिक स्वास्थ्य के प्रति सचेत होना पड़ेगा जिससे मानसिक बीमारी की रोकथाम की जा सकें अगर बच्चों को विकास धीमी गति से हो रहा तो परिवार वाले बच्चों को मानसिक स्वास्थ्य के डॉक्टर को तुरन्त दिखायें जिससे समय से उनका उपचार किया जा सकें, यदि समय से उपचार शुरू किया जाये तो बहुत सारी मानसिक बीमारियों की रोकथाम की जा सकती है। आजकल के दौर में मानसिक बीमारी बढ़ रही है इससे बचने की आवश्यकता है। जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से समय-समय पर ऐसे शिविरों का आयोजन किया जाना चाहिये जिससे मानसिक स्वास्थ्य के प्रति लोगो को जागरूक किया जा सकें।

मानसिक स्वास्थ्य से पीड़ित बच्चों के द्वारा नृत्य करके अपनी योग्यता को दिखायी गयी जिसे देखकर माननीय जनपद न्यायाधीश बहुत प्रभावित हुये एवं माननीय महोदय के द्वारा मानसिक स्वास्थ्य से पीड़ित बच्चों को प्रोत्साहित किया गया। 

डॉ0 सौरभ मिश्रा, मनोचिकित्सक के द्वारा बताया गया कि आदमी को तनावमुक्त रहना चाहिए जिससे आदमी बहुत प्रकार की बीमारी विशेषकर मानसिक रोगो से मुक्त रह सकें। परिवार में आपस में बात-चीत करने से व्यक्ति तनावमुक्त एवं प्रसन्न रहता है जिससे मानसिक रोग होने की सम्भावना कम होती है। नींद न आना या देर से नींद आना, चिन्ता, घबराहट, तनाव आदि रहना, काम में मन न लगना व आत्महत्या का विचार करना, भूत-प्रेत, देवी-देवता आदि की छाया का भ्रम होना आदि मानसिक रोगियों के सामान्य लक्षण होते है जिसके बारे में लोगो को जागरूक किये जाने की आवश्यकता है।

श्रीमती अर्चना अध्यक्ष, उम्मीद किरन एन0जी0ओ0 के द्वारा मंच का संचालन करते हुये  बताया गया कि मानसिक रोग के बारे में लोगो को जागरूकत होने की आवश्यकता है। हमारी समाजसेवी संस्थान समाज में ऑथेस्टिक बच्चों को चिन्हित कर उनका उपचार करके उनको समाज की मुख्य धारा से जोड़ने का प्रयास करती है।

     कलाम द ग्रेट न्यूज खबरें सबसे पहले।

  kalamthegreat9936@gmail.com

Contact number -9453288935, कलाम द ग्रेट न्यूज में विज्ञापन अथवा पत्रावली छपवाने हेतु संपर्क करें।

सम्पर्क कार्यालय लखनऊ*